Skip to main content

Posts

Showing posts from March, 2017

उसके भोलेपन पर मिट न जाऊँ तो मैं क्या करूँ

उसके भोलेपन पर मिट न जाऊँ तो मैं क्या करूँ
किस कदर नफ़रत है मुझसे यह बताया है मुझे मुझको उसकी दुश्मनी पे नाज़ क्यों न हो कहो
है भरोसा मुझपे ज़ालिम ने जताया है मुझे वो कोई इल्ज़ाम दे देता मुझे तो ठीक था
उसकी चुप ने और भी ज़्यादा सताया है मुझे